Benefit And Side effects of Apple Cider Vinegar and How to make Apple cider Vinegar in hindi

आपको शायद सुनकर हैरानी होगी (या नहीं भी) की सेब जो की एक फल है उससे हमे बहुत सारे लाभ हो सकते है। हैरानी की बात तो है पर यह सच है।आज एपल साइडर विनेगर इतना प्रचलित है की आपको आसानी से कोई भी जनरल स्टोर या मार्केट में कई जगह आसानी से मिल जाता है । एपल साइडर सिरका पीने से रोज़ाना आपके स्वास्थ्य और आपके जीवन के कई पहलुओं को सुधारने का एक निश्चित और आसान तरीका है। हमे प्रकृति से बहुत से ऐसे तत्व मिले है जिसे हम खाते तो जरूर है पर उसके लाभ नहीं जानते,जो हमारे लिए कई बीमारियो से लड़ने में सहायता प्रदान करता है। एपल साइडर विनेगर जिससे हम हिन्दी में सेब का सिरका भी कहते है और कई लोग इसे ACV भी कहते है।

एपल साइडर विनेगर देखने में भूरे रंग का होता है जो सेब के खमीर उठने से बनता है।आयुर्वेद में ईसे स्वास्थ के लिए एक ओषधि की तरह उपयोग किया जाता है। कच्चे, कार्बनिक, अनफ़िल्टर्ड और अनप्श्चुराइज्ड सेब साइडर सिरका धरती पर सबसे पुराना और सबसे उपयोगी उपाय है। इसमें कच्चे एंजाइमों और फायदेमंद जीवाणुओं का मेल होता है जो इसके अधिकांश स्वास्थ्य लाभ के लिए बहुत ही लाभदायक है।कई वर्षो से सेब के सिरके का इस्तमाल सभी रोगो के उपचार में किया जाता है। इसके नियमित सेवन से पाचन शक्ति,गठिया,हाइ बीपी,मधुमेह जैसे बीमारियो से छुटकारा दिलाने में मदद करता है।

बस यह ध्यान रखें कि आप की कभी भी सिर्फ सेब साइडर सिरका नहीं पीना चाहिए क्योंकि यह आपके अन्नप्रवास को जला सकता है। सेव सिरका विनेगर के एक बड़े चम्मच में 8 औंस पानी के साथ मिलाकर पिये। यदि आपको इसका स्वाद पसंद नहीं आता हो तो,अपने स्वाद के अनुसार इसमे थोड़ा शहद या कुछ फल का रस जोड़ने से भी मदद मिल सकती है जिससे आपको इसका स्वाद बेहतर लगे। ब्रैग का ACV इसका सर्वश्रेष्ठ ब्रांड माना जाता है।

Contents

सेब का सिरके के फायदे इन हिन्दी (Benefits of Apple Cider Vinegar in hindi)

१) एपल साइडर विनेगर आपके शरीर के PH स्तर को बनाए रखने में मदद करता है (Apple cider vinegar helps to maintain the PH level of your body in hindi)

बेहतर स्वास्थ्य की ओर पहला कदम रखने के लिए ACV का उपयोग एक बेहतर उपाय है। ये हमारे शरीर के पीएच लेवेल को सही रखता है। पीएच संतुलन महत्वपूर्ण है, क्योंकि शरीर में कई कार्य केवल एक निश्चित स्तर अम्लता या क्षारीयता पर होते हैं। शरीर में कई एंजाइम और रासायनिक प्रतिक्रियाएं किसी विशेष पीएच पर सबसे अच्छा काम करती हैं, और शोध से पता चला है कि उच्च एसिड का स्तर ऊर्जा की कमी और संक्रमण की उच्च घटनाओं का कारण बनता है।जब आपको लगता है कि कच्चे कार्बनिक एसीवी अम्लीय होता है, जब खपत होती है। एसिड बनाने वाले खाद्य पदार्थों में प्रोसेस्ड फूड, अल्कोहल, चीनी और अन्य सरल कार्बोहाइड्रेट जैसी चीजें शामिल हैं। अपने शरीर को अधिक बेहतर रखने से स्वाभाविक रूप से आपकी ऊर्जा के स्तर को बनाए रखने में मदद मिलेगी और बीमारी से लड़ने के लिए इसे बेहतर ढंग से सक्षम कर सकेंगे।

२) एप्पल साइडर सिरका पीने से रक्त शर्करा को नियंत्रित करने में उपयोग (Using Apple Cider Vinegar to Control Blood Sugar in hindi)

एरिजोना स्टेट यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और पोषण विभाग के निदेशक डॉ कैरोल जॉन्सन द्वारा किए गए एक अध्ययन ने एप्पल साइडर सिरका पीने के चिकित्सीय प्रभावों का समर्थन किया है, विशेष रूप से जो टाइप 2 मधुमेह के खतरे में हैं। भोजन के समय पर एक चम्मच सेब साइडर सिरका पीने से स्टार्च और कार्बोह्य्ड्राटेस के पाचन में मिलकर रक्त शकरा के अवशोषण को कम कर देता है। इसलिए ब्लड शुगर का लेवेल स्थिर हो जाता है। इसमे एसीटिक अम्ल होने की वजह से मंद पाचन में सहायक होता है। इसका प्रयोग मधुमेह के रोगियो के लिए बहुत अच्छा है। शोधकर्ताओं ने पाया कि रात को सोने से पहले ही पानी में एसीवी के दो चम्मच लेने से रक्त शर्करा का स्तर कम हो जाता है, सुबह के मुकाबले औसत 4 से 6 प्रतिशत।

३) एप्पल साइडर सिरका पीने से रक्तचाप कम हो सकता है (Drinking apple cider vinegar can reduce blood pressure in hindi)

वैज्ञानिक प्रमाण के अनुसार एसीवी निम्न रक्तचाप को सहायता कर सकता है, जो बदले में, हृदय रोग के जोखिम को कम करता है। एसीवी में पोटेशियम होता है, जो शरीर के सोडियम स्तर को संतुलित करने और इष्टतम रक्तचाप को बनाए रखने में मदद करता है। इसमें मैग्नीशियम भी शामिल है, जिससे रक्त वाहिकाओं को आराम करने में मदद के मिलती है।

४) एप्पल साइडर सिरका पीने से हार्ट में सुधार (Improve Heart By Drinking Apple Cider Vinegar in hindi)

मेडस्केप जनरल मेडिसिन में एक 2006 के अध्ययन के मुताबिक ब्लड प्रेशर को कम करने के अलावा, जो हृदय रोग के जोखिम को कम करता है, एसीवी पीने से एचडीएल या “अच्छा” कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने में मदद मिल सकती है। 2011 में कृषि और खाद्य रसायन विज्ञान के जर्नल में प्रकाशित अन्य अनुसंधान ने इन निष्कर्षों की भी पुष्टि की, और शोधकर्ताओं ने यह भी पाया कि ACV ट्राइग्लिसराइड्स नियंत्रण में मदद कर सकता है। एसीवी भी एंटीऑक्सिडेंट क्लोरोजेनिक एसिड को माना जाता है, जिसे एलडीएल कोलेस्ट्रॉल कणों को ऑक्सीकरण बनाने से वैज्ञानिक रूप से दिखाया गया है, हृदय रोग की प्रक्रिया में एक महत्वपूर्ण कदम है।

५) अंगों के स्वस्थ विषाक्तीकरण को बढ़ावा देता है (Promotes healthy vasculature of organs in hindi)

शरीर की पीएच संतुलन करने में मदद करने की प्रक्रिया में, एसीवी शरीर से हानिकारक पदार्थ को दूर करने में मदद करने के लिए काम करता है। अनुसंधान ने पाया है कि यह विशेष रूप से अंगो को डिटॉक्स में मदद करता है, और यह परिसंचरण को प्रोत्साहित करने में मदद कर सकता है। एसीवी त्वचा और रक्त के लिए विभिन्न प्रकार की उपचार प्रक्रियाओं का दावा करता है, जिससे शरीर में हानिकारक पर्यावरणीय विषाक्त पदार्थों को निकालने में सहायता मिलती है, विशेष रूप से जिगर में। यह ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने के दौरान इसे फ्लश करने और प्राकृतिक रक्त निस्पंदन प्रक्रिया में सुधार करने में मदद करता है। एक और तरीका है कि एसीवी शरीर को श्लेष्म को तोड़कर और लिम्फ नोड्स को साफ करके निकालने में मदद करता है, जो कि बेहतर लसीका परिसंचरण के लिए अनुमति देता है। जब आपकी लसीका प्रणाली स्वस्थ होती है, तो यह कोशिकाओं से विषाक्त पदार्थों को हटा सकती है और प्रतिरक्षा प्रणाली की प्रतिक्रिया में सुधार कर सकती है।

७) ऐप्पल साइडर सिरका पीने से पाचन बीमारियां दूर होती हैं (Eating apple cider vinegar removes digestive diseases in hindi)

एसीवी बहुत प्रभावी है जब यह विभिन्न प्रकार की पाचन विकारों की बात आती है क्योंकि यह पाचन रस को उत्तेजित करता है जो शरीर के टूटने के भोजन की मदद करते हैं। यह अपच, सूजन, गैस और यहां तक ​​कि असंतोष भी मदद कर सकता है। वास्तव में, विशेषज्ञों का कहना है कि ग्लास पानी के साथ एसीवी का एक चम्मच लेने से तेज़ी से राहत मिलेगी। कुछ सिद्धांतों का सुझाव है कि कम पेट के एसिड स्तरों के कारण ईर्ष्या होती है, और एसीवी उस स्तर को बढ़ाने में मदद करती है इसके अतिरिक्त, एसीटिक, आइसोब्यूटरीक, लैक्टिक और प्रोपोनिक एसिड सहित एसीवी में पाया गया स्वस्थ एसिड, पेट और पूरे शरीर में अवांछित खमीर और बैक्टीरिया के विकास को नियंत्रित करके बेहतर पाचन में सहायता करता है।

८) ऐप्पल साइडर सिरका पीने से वजन में कमी आती है (Drinking apple cider vinegar reduces weight in hindi)

Benefit And Side effects of Apple Cider Vinegar and How to make Apple cider Vinegar in hindi

एसीवी के दो चम्मच पानी को 16 औंस में जोड़ने और पूरे दिन इसे लेकर वजन घटाने के प्रयासों को बढ़ावा देने में मदद मिल सकती है। वजन घटाने में सहायता के लिए सभी प्रकार के चीजों का इस्तेमाल किया जाता है, क्योंकि वे आपको पूर्ण महसूस करने में मदद करते हैं – जैसा कि एरिज़ोना के अध्ययन के अनुसार उल्लेख किया गया है, यह वैज्ञानिक रूप से तृप्ति बढ़ाने के लिए दिखाया गया है।

बायोसाइंस, बायोटेक्नोलॉजी, और बायोकैमिस्ट्री में प्रकाशित एक अध्ययन से पता चला है कि 12 सप्ताह तक एसीवी का सेवन करने वाले व्यक्तिओ ने शरीर के वजन के साथ-साथ पेट की वसा, कमर परिधि और ट्राइग्लिसराइड्स में महत्वपूर्ण गिरावट हासिल करने में कामयाबी हासिल की थी।जापान के अन्य शोध में पाया गया कि अधिक वजन वाले प्रतिभागियों ने 12 सप्ताह के लिए प्रतिदिन एसीवी पिया, कम से कम वसा, कम कमर परिधि और कम बीएमआई था जो उन लोगों की तुलना में जो सेब साइडर सिरका नहीं पीते थे।

९) पीने सेब साइडर सिरका घुटने के दर्द को रोकने में मदद कर सकता है (Drinking apple cider vinegar can help prevent knee pain in hindi)

अमेरिका में चार से अधिक महिलाओं में 65 वर्ष से अधिक की उम्र में ओस्टियोपोरोसिस का पता चला है। इस निदान के लिए इसका अर्थ है कि उन्होंने अपने हड्डियों के 50 से 75 प्रतिशत हिस्से को नष्ट कर दिया है। यह भयावह स्थिति दुनिया भर में 200 मिलियन महिलाओं को प्रभावित करने का अनुमान है – 60 वर्ष की प्रत्येक 10 महिलाओं में से एक, 70 की आयु वर्ग की प्रत्येक पांच महिलाओं में से एक और 80 में से पांच की दो महिलाएं।

जाहिर है, इस बीमारी को रोकने से पहले आपकी हड्डियों की कैल्शियम के पोषक तत्व अवशोषण में एसीवी दवाई के रूप में ऑस्टियोपोरोसिस को रोकने के लिए एक आवश्यक खनिज है, यह आपके लिए सबसे अच्छा उपकरण है जो आपके हड्डी को कमजोर करने के जोखिम को कम करने के लिए उपयोग कर सकते हैं। इसे प्रत्येक भोजन के साथ पीने से, आपकी हड्डियों को मजबूत करने के लिए उचित कैल्शियम अवशोषण सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी।

१०) ऐप्पल साइडर सिरका पीने से एजिंग प्रोसेस धीमा हो जाता है (Drinking apple cider vinegar reduces the aging process in hindi)

बूढ़ापा में प्राप्त ज्ञान और अनुभव के अलावा, कुछ लोग उम्र बढ़ने के भौतिक लक्षणों की ओर झुकाते हैं,
जैसे झुर्रियों,सिरका में एंटीऑक्सीडेंट गुण समय से पहले उम्र बढ़ने को रोकने में मदद कर सकते हैं और बुढ़ापे की प्रक्रिया को धीमा करने में सहायता भी कर सकते हैं। शरीर में एसिड / क्षारीय संतुलन की स्थिरता बनाए रखने की एसीवी की क्षमता भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

११) खराब कोलेस्ट्रोल को खत्म करने के लिए सेब के सिरके (Apple vinegar to eliminate bad cholesterol in hindi)

सेब का सिरका में पेक्टिन होता है जो बॉडी के कोलेस्ट्रोल के स्तर को सही करता है। बहुत से लोगो को पेक्टिन से एलेर्जी भी होती है।जो एसीवी का सेवन न करे। ये खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में कफ मदद करता है।

१२) सेब का सिरके बालो के लिए फायदेमंद (Apple vinegar beneficial for hair in hindi)

Benefit And Side effects of Apple Cider Vinegar and How to make Apple cider Vinegar in hindi

आज कल काफी पोलिउसन होता है जिससे हमारे बाल जल्दी ही खराब होने लगते है। सेब के सिरके से बाल धोने ही समशया एक अच्छा विकल्प है जिससे गंदगी तो निकलती है साथ ही रूसी की समस्या भी खत्म होती है,पानी में सेब के सिरके की आधी मात्रा मिलाये और जब भी आपको रूसी की परेशानी हो इसे लगाए जब तक की ये खत्म न हो जाए। एसीवी से बालो की सारी गंदगी बाहर निकाल जाती है जिससे आपको काफी आराम मिलेगा।इसे लगाने के लिए 3 कप पानी में 3 कप एसीवी का और 3 से 4 बूंद रोजमेरी का तेल मिलाकर उसे काँच की बोतल में रखे और जब भी सिर धोये,धोने से पहले इसे अच्छी तरह जड़ में 1 से 2 घंटे पहले लगाए। फिर कंडीशनर से सिर धो ले। इससे आपके बालो की जड़ने की समस्या दूर हो जाएगी और आपके बाल बहुत ही सुंदर,मजबूत, चमकदार और लंबे हो जाएगे।

१३) सूजन कम करने में सेब के सिरके का उपयोग (Use apple vinegar to reduce swelling in hindi)

धूप से जली त्वचा हो या झुरिया, सेब के सिरके को नहाने के पानी में डालकर नहाने से शरीर की ये परेशानी हट जाती है। और अगर आपकी आहार नाली में सूजन हो तो आप इसे सलाद या पानी के साथ सेवन करके सूजन को खत्म कर सकते है।

१४) शेविंग में एपल साइडर विनेगर का उपयोग (Use of Apple Cider Vinegar in Shaving in hindi)

अक्सर शेविंग करने के बाद लोगो की चहरे पर रेज़र के कारण कट जाता है।कटी हुई त्वचा पर सालो से लोग आफ्टर शेव लोशन का प्रयोग करते है। इस लोशन की जगह आप आप सेव के सिरके का इस्तमाल कए सकते है। एपल साइडर विनेगर में एंटीसेप्टिक गुण होते है जो कटी हुई त्वचा को ठीक करते है। साथ में त्वचा को मुलायम और रॉम छिद्रो को खोलता है। इसे प्रयोग करने के लिए आप एक शीशे के बोतल में सिरके और पानी को मिलकर रख ले और जब भी प्रयोग करना हो इसे मिलाकर या हिलाकर प्रयोग करे।

१५) नाखूनो की चमक बढ़ाने के एपल साइडर विनेगर का उपयोग (Use of Apple Cider Vinegar to enhance Nail Shine in hindi)

Benefit And Side effects of Apple Cider Vinegar and How to make Apple cider Vinegar in hindi

नाखूनो को साफ रखना हमारे लिए बहुत जरूरी है साथ इसे साफ करने या मैनिक्युर करवाने हम पार्लर जाते है। मैनिक्युर में इतना टाइम भी लग जाता है पर नाखूनो की चमक दो से तीन दिन में खत्म हो जाती है। इसलिए अगर आपको अपने नखनों की चमक बढ़ानी हो तो एपल साइडर विनेगर एक अच्छा विकलप है। मैनिक्युर करवाने से पहले नाखूनो पर सेब के सिरके को थोड़ी देर लगा कर छोड़ दे और सूखने दे जिससे आपके नाखून लंबे समय तक चमकदार रहेगे।इस प्रक्रिया को करने से नाखूनो में से आसानी से तेल निकलता है जिससे पोलिश नाखूनो पर लंबे समय तक टीका रेहता है।

१६) यीस्ट संक्रमण में लाभदायक है सेब का सिरका (Apple cider vinegar beneficial in yeast infection in hindi)

महिलाओ में यीस्ट संक्रमन रोग कभी कभी होता है जिससे बचने के लिए सेब का सिरका का प्रयोग हम कर सकते है। इसे प्रतिदिन २ चम्मच सेवन करने से इसमे काफी आरम मिलता है। इससे हर कोई व्यक्ति को जरूरी नहीं असरकारी ह। और सका उपयोग करते समय ध्यान जरूर रखना चाहिए।

१७) मुहाँसे को दूर करने में एपल साइडर विनेगर का उपयोग (Use of Apple Cider Vinegar to remove acne in hindi)

अगर आपके चेहरे पर मुहाँसे हो गए है तो सेब का सिरका का प्रयोग कर सकते है। इसे कॉटन या रुई पर कुछ बुँदे डालकर चेहरे पर लगाए। इससे आपके चेहरे की मुहाँसे तो दूर होंगे ही साथ ही चेहरे की सारी दाग धब्बे भी हटाने में मदद मलेगी।

१८) रंगत को सुधारने में सेब का सिरक्का का उपयोग (Use of Apple Cider Vinegar to improve the color in hindi)

चेहरे के रंगत को सुधारने के लिए एसीवी एक अच्छा विकल्प है। सेब का सिरका मुहाँसे से लड़ने में बेहद मदद करता है। इससे आपकी त्वचा के बैक्टीरिया मर जाते है और रंगत साफ होने लगती है। ये चेहरे के दाग धब्बे के इलाज के लिए आप प्रयोग कर सकते है। इसे एसिट्रिजेंट की तरह इस्तमाल कर सकते है। आप इसे पानी मिलाये और चेहरे पर पर लगाए।ज़्यादातर स्वास्थ जानकार भी सलाह देते है की इसे नहाने के पानी में सेंधा नमक के साथ मिलाकर इस्तेमाल करने से त्वचा की अशुद्धीयां और विषाक्त सब दूर हो जाते है।

१९) मस्से हटाने के लिए एपल साइडर विनेगर का उपयोग (Use of Apple Cider Vinegar to remove Wart in hindi)

मस्से तो होना आम बात है और किसी को भी हो सकता है। लेकिन जब्न वो आपकी खूबसूरती पर दिखने लगता है तो ईसे हटाने की जरूरत होने लगती है। मस्से को हटाने में आप सेब का सिरका का प्रयोग कर सटे है। सेब के सिरके की कुछ बुँदे रुई में डुबाये और उससे मस्से पर लगाकर रात भर छोड़ दे। और सुबह हटा दे। थोड़े ही दिन में आपको फायदा मिलेगा। इसे आप एक टोनर के रूप में भी प्रयोग कर सकते है।

२०) दाँतो को सफ़ेद करने के लिए एपल साइडर का उपयोग (Apple Cider Vinegar use to whiten teeth in hindi)

Benefit And Side effects of Apple Cider Vinegar and How to make Apple cider Vinegar in hindi

आप अपने दाँतो के पीले पैन को हटाने के लिए सेब के सिरके का प्रयोग कर सकते है। इसे लगाने के बाद आपके दाँत सफ़ेद लाग्ने लगेगे। इसे आप माउथ वश की तरह भी इस्तमाल कर सकते है। डेन्टिस्ट भी कहते है की आधी मात्रा सेब के सिरका का में १ कप पानी मिलकर आप माउथ वाश के जैसे इस्तमाल कर सकते है। इस मिश्रण को कुछ मिनट के लिए कूल्हा करे। इससे आपके दाँतो का पीलापन दूर होजएंगा। और मुंह की दुर्गन्द भी दूर हो जाएंगी।

२१) घर की सफाई में सेब के सिरका का उपयोग (Use apple vinegar in house cleaning in hindi)

सेब के सिरके में एंटीबकटेरियल गुण होता जो गंध और बैक्टीरिया को खत्म कर के घर को साफ रखने में मदद करता है। अगर आप अब भी घर की सफाई के लिए आम सामाग्री कपयोग कर रहे है तो सेब का सिरका इसकी जागह आप प्रयोग कर सकते है। इससे कठोर केमिकल को हगत देता है। बस आधा कप सेब के सिरका को १ कप पानी में मिलाकर एक बोतल में रखे और जबभी आपको आवश्यकता हो इसे प्रयोग करे।

२२) दुर्गंध को दूर करने में एपल साइडर विनेगर का उपयोग (Use of Apple Cider Vinager to remove odor in hindi)

कभी कभी आपके घर में यदि किसी प्रकार की दुर्गंध हो जाए तो सेब का सिरका का प्रयोग कर सकते है चाहे वो रूम हो या फिर किचन या फिर बाथरूम। सेब का सिरका इसतमाल करने से बैक्टीरिया खत्म हो जाती है । एक बर्तन में सेब का सिरका रहे और जहा जहा बदबू हो वह रख दे। इसे तब तक रखे जब तक सिरके की गंध खत्म न हो जाए।

२३) कैंसर से बचाव करने के लीये सेब के सिरके के फायदे (Advantages of apple vinegar to prevent cancer in hindi)

सेब का सिरका का सेवन करने से कैंसर की कोशिकाओ को बढ्ने से रोका जा सकता है। अगर आप इसका सेवन रोज करते है तो कैंसर होने की संभावना कम हो जाती है।

अगर आपको इन सब में से किसी भी प्रकार की परेशानी हो तो आप एपल साइडर विनेगर का प्रयोग कर सकते है। और आप अपने सभी बीमारियो से छुटकारा पा सकते है पर इसके लिए आपको अपने शरीर को स्वस्थ बनाना होगा।सेब का सिरका इसलिए भी मान में ज्यादा है क्यूकी ये स्वास्थ्वर्धक है। लेकिन कुछ ऐसी बीमारिया है जिसमे ये शरीर के लिए हानिकारक है। एपल साइडर विनेगर के बहुत लाभ और प्रयोग तो है ही लेकिन कहते है न, की कोई भी चीज का साइड ईफ़्फ़ेक्ट्स होता है अगर आप उसका सेवन सही से न करे यानि ज्यादा मात्रा में करे।

सेब के सिरके के नुकसान इन हिन्दी (Side effects of Apple Cider Vinegar in hindi)

१) सेब का सिरका का अधिक सेवन करने से इसोफोगस,टुथ इनेमल और पेट की समस्या उतपन हो सकती है क्यू की इसमे एसिड मोजूद होता है। अगर आप इसका उपयोग सीधे त्वचा पर करेगे तो इससे त्वचा पर खुजली ,जलन और रेसेज हो सकता है।इसलिए इसका उपयोग सीधे त्वचा पर नहीं करना चाहिए। इसका उपयोग या तो पानी के साथ या शहद ,जूस या तो फिर बेकिंग सोडा आदि के साथ करना चाहिए।

२) इसमे एसिड होता है जो शरीर के ब्लड में पॉटेश्यम के स्तर को कम कर देता है।

३) सेब का सिरके का प्रयोग सेधे दाँतो पर भी नहीं करना चाहिए। नहीं दाँतो पर भी नुकसान पहुच सकता है।इससे दाँतो में सेंसिटिविटी बढ़ सकती है जिससे खाने पीने में समस्या हो सकती है।सेब के सरके का सेवन करने के बाद पानी से अच्छी तरह मुंह धोना चाहिए।

४) एपल साइडर विनेगर के अधिक सेवन से आपकी हड्डीया को कमजोर कर सकता है। ये बोन मिनरल डैन्सिटि को भी कम कर देता है। जिन लोगो को हड्डियों की बीमारी हो खास कर ओस्ट्योपोरोसिस की तो सेब के सिरके की सेवन करने की सलाह डॉक्टर नहीं देते है।

सेब का सिरका बनाने की विधि इन हिन्दी (How To make Apple Cider Vinegar At Home in Hindi)

Benefit And Side effects of Apple Cider Vinegar and How to make Apple cider Vinegar in hindi

  1. 10 सेब ले और अच्छे से धो ले।एक चाकू ले और सेब को तीन हिस्से में काटे।
  2. अब कटे हुए सेब को कमरे के तापमान में ही रहने दे जब तक वो भूरे रंग का न हो जाए।
  3. जब सेब भूरे रंग के होजाए तो न्हे बड़े जग में डाल दे।फिर जग में पानी मिलाये जिससे सेब अच्छे से पानी में डूब जाए।Benefit And Side effects of Apple Cider Vinegar and How to make Apple cider Vinegar in hindi
  4. फिर जग को किसी जाली दर कपड़े से ढककर रख दे। लेकीन ध्यान रहे की कपड़ा ज्यादा कसा हुआ न हो। नहीं तो सेब को अच्छे से हवा नहीं मिल पाएगी।
  5. फिर इसे गरम वाली जगह पर अंधेरे में रख दे। हर हफ्ते एक बार इसे चम्मच से अच्छे से मिला दे।Benefit And Side effects of Apple Cider Vinegar and How to make Apple cider Vinegar in hindi
  6. 6 महीने तक इसे दोहराए फिर ईसपर से कपड़े को हट्टा दे। उसके बाद इस पर आप देखेगे की झाग सा बैठा है। ये बैक्टीरिया की वजह से होता है और ये मिश्रण सिरके में बदलने लगता है।
  7. अब इसे दूसरे बर्तन में छान ले।फिर जालीदार कपड़े से उससे फिर से ढ़क दे।Benefit And Side effects of Apple Cider Vinegar and How to make Apple cider Vinegar in hindi
  8. इसे 1 से 2 महीने तक ढक कर एफ़आर से गर्माहट वाली और अंधेरे वाली जगह पर रख दे।
  9. 2 महीने बाद इसे आप चाहे तो दूसरे शीशे के कंटेनर में रख दे। इसे फ्रीज़ में स्टोर कर के रखे।
  10. ऐसा करने से ये लंबे समय तक ताज़ा रहेगा।

सेब के सिरके को खुद से तैयार करने से पहले ध्यान दे की पूरी प्रोसैस में इस्तमाल हुए कंटेनर बिलकुल साफ सुथरा रखे नहीं तो आपकी मेहनत बर्बाद होजागी क्यूकी इसमे बैक्टीरिया चले जाएगे। जिससे वो अच्छा भी नहीं होंगा और आपके काम भी नहीं आएगा।सभी बर्तन को इस्तमाल करने से पहले आप सभी को अच्छे से गरम पानी से धो ले और ध्यान रखे की आपके हाथ और नाखूनो अच्छे से साफ है न।नहीं तो खराब बैक्टीरिया इसमे चले जाएगे और फिर इसमे बढ्ने भी लगेगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here